Showing posts with label विविध. Show all posts
Showing posts with label विविध. Show all posts

Wednesday, February 24, 2021

पंच इंंद्रीय उद्यान(द गार्डन ऑफ फाइव सैंसेज)

 दिल्ली टूरिज्म द्वारा 34 वें गार्डन टूरिज्म फेस्टीवल  का आयोजन

 
दिल्ली पर्यटन द्वारा 34 वें उद्यान पर्यटन उत्सव ( 34th Garden Tourism Festival)  का आयोजन 19 फरवरी 2021 से 13 मार्च 2021 तक दिल्ली के साकेत स्थित पाँच इंद्रीय उद्यान ( The Garden of Five Senses)   में किया जा रहा है। यह गार्डन साकेत के सैद उल अजाब में स्थित है जो तकरीबन 20 एकड़ जमीन में है और  दिल्ली पर्यटन का महत्वपूर्ण लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।  





गार्डन तक कैसे पहुँचे?

 साकेत मेट्रो स्टेशन से सुबह 11 बजे  से लेकर शाम 6 बजे तक गार्डन तक मुफ्त शटल सेवा उपलब्ध है। गार्डन खुलने का समय  वीकेंड में सुबह 11  बजे से लेकर शाम को 7 बजे तक है सप्ताह के बाकी दिनों में सुबह 11 बजे से शाम को 6 बजे तक है।  साकेत मेट्रो स्टेशन से लगभग 2 किमी दूर है। बाकी अपने वाहन द्वारा या दिल्ली बस सेवा का उपयोग भी किया जा सकता है। 


गार्डन घूमने का शुल्क भी लगता है। जो वीकेंड पर 50 रुपये प्रति व्यक्ति है। वहीं सप्ताह के बाकी दिनों यानी वीक डेज में 40 रुपये प्रति व्यक्ति है। सीनियर सिटिजन के लिए 40 रुपये है। 12 साल तक के  बच्चों से कोई शुल्क नहीं वसूला जाता है। 



उपलब्ध सुविधाएँ

गार्डन में पीने का पानी मुफ्त उपलब्ध है। फूड स्टॉल भी वगैरहा भी है जहां पर स्वादिष्ट व्यजनों का लुफ्त उठाया जा सकता है। जन सुविधाएँ उपलब्ध हैं।  आराम से बैठने की व्यवस्था भी है।

घूमने का सबसे अच्छा वक्त

गार्डन में आजकल काफी चहल-पहल नज़र आ रही है। बड़ी संख्या में लोग गार्डन में जा रहे हैं। साल का यह समय गार्डन घूमने के लिए शायद सबसे बढ़िया समय है। आजकल बसंत का मौसम है।  इसलिए हर साल दिल्ली टूरिज्म इस महीने में पर्यटन मेले का आयोजन करता है। गार्डन में विभिन्न तरह के फूल सबके आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। इस गार्डन की वास्तुकला गजब की है। इस गार्डन का नाम पंच इंद्रीय इसलिए रखा गया है क्योंकि यहाँ पाँचों इंद्रियों ( आँख, कान, नाक, त्वचा और जीभ)  की तृप्ति को समर्पित है। प्रकृति प्रेमियों और  यंग कपल के बीच यह गार्डन कुछ ज्यादा ही लोकप्रिय है। व्यक्तिगत तौर पर मुझे इसकी वास्तुकला और यहाँ की कलाकृतियाँ काफी अच्छी लगी है। हरे-भरे लॉन,, झरने और इसे विशेष लुक देते हैं।  तमाम तरह के आकर्षक दृष्यों और आकर्षणों से सुसज्जित है।  इस गार्डन में एक बार अवश्य जाना चाहिए। 

फोटो के लिए एक अच्छा कैमरा साथ ले जाएँ तो बेहतर रहेगा। मोबाइल से भी काम चल जाता है। एक आईडी भी साथ रखनी चाहिए। जरूरत पड़ने पर काम आ सकती है।


 कुछ फोटो मैंने भी क्लिक किए हैं। उनमें कुछ यहाँ दिए जा रहे हैं। इन चित्रों में पंच इंद्रीयों का दर्शाने वाली कलाकृतियाँ भी शामिल हैं।



वर्षा - गंध


 
Summer -indication of touch sense
ग्रीष्म - स्पर्श 


Spring- sight sense
बसंत - दृष्य


dew-winter-taste sense
हेमंत और शीत- स्वाद

Autumn - sound sense
शरद - ध्वनि



































                                 -  वीरेंद्र सिंह 

Monday, February 15, 2021

पुष्प वाटिका में देखें बसंत के मनोहारी रंग

             

              कैमरे की नज़र से बसंत के रंग 


                                         
























































Beautiful flowers


                                       -वीरेंद्र सिंह